सुंदर, स्वच्छ, स्वस्थ, आधुनिक, झुग्गीमुक्त और रोजगार युक्त शहर बनायेंगे – मुख्यमंत्री

भोपाल| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि रोटी, कपड़ा और मकान, पढाई-लिखाई, दवाई और रोजगार का इंतजाम नगरीय विकास का विजन है। मुख्यमंत्री श्री चौहान मिशन नगरोदय के राज्य स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने 3,112 करोड़ 81 लाख रूपये लागत की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं में हितलाभ वितरित किये और नगरीय अधोसंरचनाओं का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। यह कार्यक्रम प्रदेश के सभी 407 नगरीय निकायों में किया गया।

नगरों के विकास के लिए 70 हजार करोड़ रूपये खर्च होंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वच्छता है तो स्वास्थ्य है और स्वास्थ्य है तो आनंद है। अत: प्रदेश को स्वच्छता में देश में नंबर वन बनाने के लिए हम सब को मिलकर संकल्प लेना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हम सब मास्क लगाकर और दूरी बनाकर कोरोना को हराने का संकल्प भी ले। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वृक्षारोपण के लिए सभी को प्रेरित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम में सबको स्व-रोजगार उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना आरंभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अगले पाँच वर्षों में नगरों के विकास के लिए 70 हजार करोड़ रूपये खर्च किए जाएंगे। विकास और जन-कल्याण का कार्य लगातार जारी रहेगा। सड़क, बिजली, पानी, अडंरग्राउण्ड सीवेज और हर घर में नल से जल की व्यवस्था होगी।

अधोसंरचना, पेयजल शुद्धिकरण और स्वच्छता पर तीन नए कार्यक्रम आरंभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मिशन नगरोदय में प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत करीब एक लाख 60 हजार से अधिक परिवारों को प्रथम एवं द्वितीय किस्त की राशि करीब 1602 करोड़ रूपये के वितरण की शुरूआत की। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में 407 नगरीय निकायों और 5 छावनी क्षेत्रों के एक लाख हितग्राहियों को 100 करोड़ रूपये वितरित किये गये। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 15वें वित्त आयोग के अंतर्गत नगरीय निकायों को विकास कार्यों के लिये करीब 810 करोड़ रूपये की राशि प्रदान की। मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना फेस-3 के अंतर्गत अमृत योजना, स्मार्ट सिटी और निकाय मद के 500 करोड़ रूपये की लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन और शिलान्यास किया। नगरीय क्षेत्रों में सड़कों की मरम्मत और निर्माण के लिए 100 करोड़ रूपये की अतिरिक्त राशि जारी की गयी। निकाय स्तर पर पंचवर्षीय विकास योजना का रोडमैप तैयार किया गया है। अगले पाँच वर्ष में नगरीय निकायों के विकास के लिये 44 हजार करोड़ रूपए के रोडमैप का विमोचन किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना फेस-4, मुख्यमंत्री शहरी पेयजल शुद्धिकरण योजना और मुख्यमंत्री शहरी स्वच्छता मिशन आरंभ करने की घोषणा भी की।

शहीदों की जन्म-स्थली और कर्म-स्थली पर होंगे विशेष कार्यक्रम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर अमृत महोत्सव के अंतर्गत गतिविधियाँ आरंभ हो चुकी हैं। उन्होंने आजादी के योद्धाओं को नमन करते हुए कहा कि उनकी स्मृति में प्रदेश के सभी जिलों में कार्यक्रम होंगे। शहीदों की जन्म-स्थली और कर्म-स्थली पर विशेष कार्यक्रम किए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहाने ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का आभार मानते हुए कहा कि कोरोना के कठिन काल में आपदा को अवसर में बदलने का विजन और सामर्थ्य प्रधानमंत्री श्री मोदी के प्रयासों से ही संभंव हो पाया।

अगले चार वर्ष में हर गरीब को मिलेगा घर या फ्लेट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अगले चार वर्षों में मध्यप्रदेश में कोई भी गरीब ऐसा नहीं होगा, जिसका अपना घर या फ्लेट न हो। नगरों में आवागमन की सुविधाजनक व्यवस्था के लिए सिटी बस सेवा, ई-रिक्शा और पार्किंग के बेहतर इंतजाम किए जाएंगे। पार्क, पुस्तकालय, दीनदयाल रसोई केन्द्रों की संख्या बढ़ाने, वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों को विशेष सुविधाएँ, निराश्रितों के लिए शेल्टर होम्स, गुणवत्ता शिक्षा के लिए सीएम राइज स्कूल और चिकित्सा सुविधा के लिए संजीवनी मुहल्ला क्लीनिक की व्यवस्था की जा रही है।

अवैध कॉलोनियाँ होगी वैध

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हर शहर का अपना मास्टर प्लान और आपदा प्रबंधन प्लान होगा। धार्मिक स्थलों के कायाकल्प, धरोहर के संरक्षण के लिए भी लगातार कार्य जारी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अवैध कॉलोनियों को वैध करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि भविष्य में कोई भी अवैध कॉलोनी विकसित नहीं होने दी जायेगी। इसके लिए शासकीय अधिकारी जिम्मेदार होंगे।

अतिक्रमण हटाने में गरीबों को परेशान नहीं किया जाए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की धरती पर कानून का राज चलेगा। किसी माफिया की मनमर्जी नहीं चलने दी जायेगी। भू-माफिया, कानून तोड़ने वालों को बख्शा नहीं जायेगा। महिला सुरक्षा के लिए राज्य शासन प्रतिबद्ध है। बहन-बेटियों पर ज्यादती करने वाले 72 लोगों को फाँसी की सजा सुनाई जा चुकी है। जीवन को सुखद बनाने के लिए विभिन्न गतिविधियाँ जारी हैं। नागरिकों को सामान्य गतिविधियों के लिए कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़े, इसके लिए आय प्रमाण-पत्र, खसरा-खतौनी की नकलें, बिल जमा कराने और विभिन्न अनुमतियाँ ऑनलाइन उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। शहरों को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए भी अभियान जारी है। अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि अतिक्रमण मुक्ति के लिए चलाये जा रहे अभियानों में गरीब व्यक्ति परेशान नहीं हो।

नगरीय विकास पर लघु फिल्म का हुआ प्रदर्शन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कन्या-पूजन कर कार्यक्रम का आरंभ किया। इस अवसर पर नारी सम्मान गीत प्रस्तुत किया गया। भोपाल नगर पालिका निगम द्वारा किये गये विकास कार्यों पर केन्द्रित प्रदर्शनी और नगरीय विकास को रेखांकित करती लघु फिल्म का प्रस्तुतिकरण भी हुआ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम में प्रदेश के नगरीय निकायों के पंचवर्षीय विकास के 44 हजार करोड़ रुपए के रोड मैप का विमोचन भी किया। इसके साथ ही भोपाल नगर निगम की पुस्तिका ‘विकास के सोपान’ का विमोचन भी किया गया।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s